Balod NewsCG NewsChhattisgarhराजनीति

अब तक शराबबंदी नही होने से सड़क पर उतरी महिलाएं, भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ अवैध शराब बिक्री के खिलाफ खोला मोर्चा, बस स्टैण्ड में धरना प्रदर्शन

बालोद। गुन्डरदेही विधानसभा क्षेत्र के अनेक ग्रामों में अवैध शराब विक्रय से महिलाओं को होने वाली आर्थिक,मानसिक तथा शारीरिक प्रताड़ना ,अवैध शराब विक्रय से गांवों में उत्पन्न हो रही अशांति के माहौल के खिलाफ भाजपा प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य एवं जिला पंचायत बालोद के पूर्व सभापति अभिषेक शुक्ला के नेतृत्व में गुण्डरदेही विधानसभा क्षेत्रांतर्गत विभिन्न ग्रामों के सैकड़ो की संख्या में सामाजिक कार्यकर्ता एवं महिलाओं, ग्रामीणों ने मार्री बंगला बस स्टैड में धरना प्रदर्शन पश्चात रैली निकाल कर देवरी थाने का घेराव किया। इस दौरान ग्रामीण भारी आक्रोश में दिखे। अवैध शराब विक्रय को लेकर उक्त धरना प्रदर्शन एवं थाना घेराव में पवन साहू प्रदेश अध्यक्ष किसान मोर्चा ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोलते हुए कहा कि गुंडरदेही विधानसभा ही नही पूरे छत्तीसगढ़ में इस सरकार के संरक्षण में अनेक तरह के अवैध कारोबार संचालित हो रहे हैं अवैध शराब विक्रय ,जुआ,सट्टा के कारोबारी बेखौफ होकर पूरे प्रदेश की जनता का शोषण कर रहे हैं । इनके शासनकाल में भ्रष्टाचार मुख्यमंत्री कार्यालय से शुरू होकर अंतिम पायदान तक पहुंच गई है। भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ का पैसा दिल्ली में बैठे अपने आकाओं के ऊपर न्योछावर कर रहे हैं एक तरह से यह भी कहा जा सकता है बैंको के एटीएम से तो निर्धारित तय सीमा तक ही राशि निकाली जा सकती है परंतु मुख्यमंत्री भुपेश बघेल कांग्रेस पार्टी के लिए नए एटीएम की तरह हो गये है जब चाहे जितना चाहे रुपया निकाल लो।

जिला भाजपा अध्यक्ष कृष्णकांत पवार ने कहा पूरा बालोद जिला नशे के चपेट में है हर जगह शराब खुलेआम बिक रहा है शासन और प्रशासन का इस पर कोई नियंत्रण नहीं है जिले में सिर्फ और सिर्फ अवैध कारोबारियों का बोलबाला है अवैध कारोबारी जिला के जनता का शोषण कर पैसा कमाने में लगे हैं। पूरे जिले का विकास थम सा गया है ।लोगों के मौलिक आवश्यकताओं की पूर्ति करने में ये कांग्रेस सरकार पूरी तरह असफल है ।
धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए प्रदेश भाजपा कार्यसमिति के सदस्य अभिषेक शुक्ला ने गुंडरदेही विधायक कुंवर निषाद को जमकर घेरते हुए कहा गुंडरदेही विधायक कुंवर निषाद के संरक्षण में ही अवैध शराब का कारोबार पूरे क्षेत्र में अमरबेल की तरह फैला हुआ है क्षेत्र की जनता अवैध शराब विक्रय,जुआ ,सट्टा के कारोबारियों के चपेट में आ गई है। अवैध शराब ग्राम भन्डेरा सहित गांव गांव में बिकने से गांव की महिलाओं को अनेक समस्याओं का सामना करते हुए प्रताड़ना झेलना पड़ रहा है। घर के साथ साथ गांव का माहौल भी बिगड़ रहा है। शराब की आसानी से उपलब्धता के चलते छोटे छोटे बच्चे भी नशे के आदी हो रहे हैं। जिससे बच्चों का जीवन अंधकारमय हो रहा है। जब से छत्तीसगढ़ में कांग्रेस भूपेश बघेल की सरकार बनी है तब से अवैध कारोबार और भ्रष्टाचार चरम सीमा में पहुंच गई है।
धरना प्रदर्शन को पूर्व विधायक वीरेंद्र साहू, डा. बालमुकुंद देवांगन, राजेंद्र राय, संध्या भरद्वाज, पुष्पेन्द्र चंद्रकार, भाजपा खेरथा मंडल अध्यक्ष टीनेश्वर बघेल, पोषन बनपेला, चेमन देशमुख, शिव धरमगुड़े, एमएल यादव, छक्कन साहू, भाजयुमो अध्यक्ष टुमन साहू आदि ने भी संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं गुण्डरदेही विधायक कुंवर सिंह निषाद के खिलाफ जमकर आक्रोश दिखाया। ग्रामीण महिला मीना यादव ने कहा कि पूर्व में महिला टीम ने 144 पव्वा अवैध शराब कोचिए के पास से पकड़े थे लेकिन उसके बाद भी पुलिस कड़ी कार्यवाही नहीं की जिसके कारण अवैध कारोबारियों का हौसला बुलंद है और वे अवैध शराब बेंच रहे हैं।
धरना प्रदर्शन पश्चात बड़ी संख्या में उपस्थिति ग्रामीण महिलाएं और भाजपा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता रैली के रूप में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,विधायक कुंवर सिंह निषाद मुर्दाबाद, के नारे लगाते हुए देवरी थाने का घेराव किए जहां थाना के सामने बैठकर जमकर ग्रामीणों ने भड़ास निकाला। अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक हरीश राठौर, एसडीओपी प्रतीक चतुर्वेदी, थाना प्रभारी अरूण नेताम, के आस्वासन के बाद धरना समाप्त किया गया। कार्यकर्ताओं ने धर्मेन्द्र श्रीवास्तव को गृहमंत्री के नाम अवैध शराब पर कड़ी कार्यवाही की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा।
उक्त जनआक्रोश कार्यक्रम ऊर्मिला साहू, भूनेश्वरी ठाकुर, राधेश्याम देवांगन, गजेन्द्र सिन्हा, पोषण देवांगन, पुष्पलता बघेल, गजेंद्र चैधरी, देवेन्द्र जोशी, मंयक बाफना, राहुल जैन, संकेत जैन, संतराम तारम, दिलेश्वर भुआर्य, शुभम देशमुख, जितेन्द्र ठाकुर, सुदामा डेहरे, उत्तम साहू, शुभम देवांगन, चैतन्य निषाद, रामप्रसाद साहू, केदार देवांगन, भुनेश्वर साहसी, अधराजी राणा, मीना यादव, परदेसी गांवरे, तामेश्वरी राणा, गैनू विश्वकर्मा, सरजू देशमुख, रोमन साहू, दिनेश भुआर्य, मिथलेश तिवारी, सुरेश साहू ,के. के साहू ,उत्तम साहू योगेश शर्मा, मनहरण देवांगन, नरेन्द साहू ,डोमन भुआर्य ,तेजराम साहू ,कौशल कुमार साहू , राजेद्र देवांगन, राजू वर्मा, बंाबी शर्मा, चन्द्र प्रकाश ठाकुर , गिरधर निषाद, दिनेश यादव, सीता राम यादव ,चंदू ठाकुर ,संतोष निषाद ,राजेन्द्र ठाकुर रिंकू निषाद, कृष्णा लाल निषाद ,धनेश राम ठाकुर , छोटू यादव , स्वनिल शर्मा,राजकुमार वर्मा ,मुरली साहू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण महिलाएं व कार्यकर्ता उपस्थि थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
×

Powered by WhatsApp Chat

×